पत्रकार जे डे मर्डर केस में छोटा राजन दोषी करार

Share:

– जिग्ना वोरा बरी

मुंबई। पत्रकार ज्योतिर्मय डे की हत्या मामले में करीब सात साल बाद सीबीआइ की विशेष अदालत ने बुधवार को अपना फैसला सुना दिया। कोर्ट ने अंडरवर्ल्‍ड डॉन छोटा राजन को दोषी करार दिया है और पत्रकार जिग्‍ना वोरा और जोसेफ पाल्‍सन को बरी कर दिया है। जे डे की बहन लीना डे ने दोषियों के खिलाफ फांसी की सजा देने की मांग की थी। उन्होंने कहा था, ‘एक भी आरोपित बरी नहीं होना चाहिए। सभी को फांसी की सजा होनी चाहिए।’ उन्होंने तल्ख लहजे में सवाल किया था, ‘ऐसा क्यों है कि हम भुगत रहे हैं और वे (आरोपित) स्वतंत्र हैं और मजे कर रहे हैं।’ उन्होंने अंदेशा जताया कि सभी आरोपित पावरफुल लोग हैं जिनके काफी संपर्क हैं। संभव है कि वे सभी बरी हो जाएं। लीना अभी भी अपने भाई की मौत के सदमे से उबर नहीं पाई हैं। उनकी मां का भी पिछले साल निधन हो गया था। 11 जून 2011 की दोपहर मुंबई के पवई इलाके में अंग्रेजी अखबार मिड डे के लिये काम करने वाले वरिष्ठ पत्रकार ज्योति डे की 5 गोलियां मारकर अंडरवल्र्ड के शूटरों ने हत्या कर दी। हमले के बाद खुद को छोटा राजन बतानेवाले शख्स ने मुम्बई के कुछ पत्रकारों को फोन भी किया और जेडे की हत्या की जिम्मेदारी ली। राजन कहना था कि जेडे को मारकर उसने गलती की है लेकिन जेडे के खिलाफ उसके कान भरे गए थे।