प्यार,वेबफाई और मौत..

Share:

नवी मुंबई

पत्नी की मौत के बाद गम में डूबे किसी पति का मन अक्सर सांसारिक जीवन से दूर हो जाता है। पर कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो पत्नी की मौत को दुःख के रूप में नहीं देखते बल्कि इसे लॉटरी, जश्न और अय्याशी के मौके के रूप में देखते हैं। दुर्भाग्य से ऐसे पतियों का अंत दुःखद ही होता है। यही दुःखद अंत 36 वर्षीय शांताराम खताल का भी हुआ। आखिरकार बुधवार 4 जुलाई 2018 की रात करीब 9.30 बजे कामोठे सेक्टर 6-ए के दुधे कॉर्नर स्थित एलोरा हाइट्स इमारत के सामने खड़े शांताराम खताल को बाइक पर सवार होकर आये दो युवकों ने पहले उनपर गोली चलाई और जब निशाना चूक गया तो एक युवक बाइक से उतरा और छुरे जैसे किसी धारदार हथियार से शांताराम खताल के पेट पर वार कर दिया और दोनों घटनास्थल से फरार हो गए। जमीन पर गिरे और बुरी तरह से घायल शांताराम खताल को पड़ोसियों और परिजनों ने कामोठे स्थित एमजीएम अस्पताल में लेकर भागे पर तब तक बहुत देर हो चुकी थी और खताल की मौत हो चुकी थी।

कामोठे सेक्टर 6- ए में रहने वाला शांताराम खताल गाड़ियों की बैटरी की दुकान चलाता था । कुछ साल पहले उसकी पहली पत्नी का निधन हो गया था। कुछ दिनों तक मातम मनाने के बाद शांताराम खताल पुनः वैवाहिक जिंदगी के सपने पालने लगा। जल्द ही उसे एक ऐसी साथी महिला मिल गई जिसे वह अपनी पत्नी बनाने का भरोसा दिलाया और शारीरिक संबंध स्थापित कर लिया। शांताराम खताल की जिंदगी में सब कुछ ठीक चल रहा था और वह अपना धंधा चलाते हुए दूसरी औरत के साथ मजे कर रहा था। वह औरत भी शांताराम खताल से शादी करने के सपने देख रही थी।
पर अचानक कुछ ऐसा हुआ कि शांताराम खताल और दूसरी औरत की जिंदगी में भूचाल आ गया। हुआ यह कि शांताराम खताल को एक तीसरी औरत पसंद आ गई। खताल का दिल अब तक दूसरी औरत से भर चुका था और वो उससे ऊब गया था। अब शांताराम खताल इस तीसरी औरत के साथ विवाह करने के सपने देखने लगा था। सूत्रों के अनुसार खताल की वादा खिलाफी से संभवतः बुरी तरह से नाराज हो गई और अगर अपुष्ट सूत्रों की मानें तो खताल की दूसरी पत्नी बनने का सपना देख रही वह औरत अपने किसी साथी मित्र की सहायता से सुपारी देकर शांताराम खताल को ही मरवा दिया। हालांकि अभी पुलिस विभाग द्वारा इसकी अधिकृत पुष्टि नही की गई है।

इस प्रकरण की जांच कामोठे पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक देवदास सोनावणे और उनकी टीम कर रही है। जांच पूरी होते ही शांताराम खताल हत्याकांड का खुलासा हो जाएगा।