कांग्रेस ने फिर उठाई मुख्यमंत्री के जलयुक्त शिवार पर उंगली

40
0
Share:

\B- योजना की असफलता छिपाने के लिए टैंकर की मांग दबाई जा रही

विसं, मुंबई : \Bमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महत्वकांक्षी ‘जलयुक्त शिवार योजना’ पर कांग्रेस ने फिर उंगली उठाई है। महाराष्ट्र कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने आरोप लगाया है कि योजना की असफलता छिपाने के लिए पानी के टैंकरों की मांग दबाई जा रही है, जिससे लोगों की परेशानियां बढ़ती जा रही है।

महाराष्ट्र कांग्रेस प्रदेश समिति के महासचिव व पार्टी प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि राज्य में सूखे से किसानों, मजदूरों और पशुओं की हालत खराब है। वहां पानी की आवश्यकता है, पर टैंकर की सप्लाई इसलिए नहीं की जा रहा है कि जलयुक्त योजना के तहत वहां काम किए गए हैं। इसके बाद भी अगर टैंकर से पानी की सप्लाई की जाएगी तो जलयुक्त शिवार योजना की पोल खुल जाएगी। सूखे के असर को देखते हुए राज्य में 10,000 से ज्यादा टैंकर की मांग की जा रही है, परंतु सरकार ने शनिवार तक केवल 5,174 टैंकर ही पानी सप्लाई किया। अधिकारियों ने गांव-गांव से आ रही टैंकर की मांग को अधर में ही अटका रखा है।

\Bजलयुक्त शिवार पर खर्च किए करोड़ों रुपये कहां गए?

\Bसचित सावंत ने जलयुक्त शिवार पर खर्च किए गए करोड़ों रुपये पर सवाल खड़ा किया कि आखिर ये रुपये किसकी जेब में गए? सावंत का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना की खूब सराहना थी। उन्होंने दावा किया था कि इस योजना के कारण राज्य के 16000 गांवों को सूखा मुक्त किया गया है, पर उनके दावे खोखले साबित हो रहे हैं। सावंत ने उदाहरण देते हुए कहा कि योजना के अंतर्गत लातूर में करोड़ों रुपये खर्च किए गए फिर भी वहां पानी की कमी है। लातूर के हालात भी दूसरे अन्य क्षेत्रों की तरह से हैं।

Leave a reply